दीवाने

हमतो   दीवाने  हुए  यार,   पहली  पहली  बार।
देखा उस लड़की को जबसे,  हुआ हमें है प्यार।।

दिल में रहती है ओ लड़की, हमको आती याद।
आँखों मे ख्वाबों  को  लाती, दिल होता उन्माद।।
--हेमलाल साहू

हेम के दोहे

वीरो के तुम वीर हो, जपते हो श्रीराम।
संकट पल में दूर हो, जबते तेरा नाम।।
राम दुलारे आप हो, करता हूँ प्रणाम।
जपने तेरे नाम से, बनते बिगड़े काम।।
दिनांक-31/03/2018
-हेमलाल साहू
ग्राम गिधवा पोस्ट नगधा
तहसील नवागढ़, जिला बेमेतरा

हेम के दोहे

पंछी  जैसे  प्रीत ना, रखिये जग में हेम।
नदिया सूखी देखकर, चले बदलने प्रेम।।

मछली जैसे प्रीत हो, जीवन जल के संग।
जैसा भी हालात हो, लड़ते  रहते  जंग।।

दिनांक 15/03/2018
-हेमलाल साहू

सार छंद

तुझको पाने की है रहती, जीवन में जी ख्वाइस।
मेरी  मोहब्बत  तुम्ही  हो,  तुम्ही   मेरी   चॉइस।।

तुम  जैसा  कोई ना देखा, जाने  क्या  है  तुझमें।
आ गई रास दिल को गुड़िया, बस गई हो मुझमें।।

जीना सीखा मोहब्बत में, पाना चाहा तुमको।
हुये प्यार में पागल तेरे, रहा न जाता मुझकों।।

कैसे पाऊँ गुड़िया तुझको, मैं अपनो से हटकर।
गोत्र  हमारे  बीच खड़ी है, दीवार एक बनकर।।

नित रहता हूँ जीवन में खुश, मैं अब तुमको पाकर।
लगता हूँ अब रोज दुआ मैं, प्रभु की मन्दिर जाकर।।
09/03/2018
-हेमलाल साहू
ग्राम गिधवा, पोस्ट नगधा
तहसील नवागढ़, जिला बेमेतरा
छत्तीसगढ़, पिन - 491340

*सार छंद*

मेरे सपनों की ओ गुड़िया है, सुंदर भोली प्यारी।
दिखती परियों की ओ रानी, लगती राजकुमारी।।

आँखे जिसकी मृगनयनी सी, चाल देख लो हिरनी।
रूप  चन्द्रमा   सा   लगती  है, रातो   की  बैतरनी।।

बादल जैसी बाल घटा है, दिखती काली काली।
लाल रसीली होठे जिसकी, रहे कान में  बाली।।

तन फूलों सा कोमल जिसकी, यौवन भरी जवानी।
कुदरत  भी  जिसकी  रंगों  में, गढ़ती  रहे कहानी।।

कोयल सी है जिसकी बोली, मीठी तान सुनाती।
रहे लाडली घर की अपने, सबके मनको भाती।।

जीन्स टॉप में रहती हरदम, फैशन करे बहाली।।
जिसके घर रहने से मनती, सुबह शाम दीवाली।।

थोड़ी सी है नखरे जिसमें, थोड़ी सी नादानी।
कहते जिनको गुड़िया रानी, तू है बड़ी सयानी।।
06/03/2018
-हेमलाल साहू
ग्राम गिधवा, पोस्ट नगधा
तहसील नवागढ़, जिला बेमेतरा
छत्तीसगढ़ पिन- 491340

मुक्तक

बेहद तुमसे हम प्यार जो करते है।
तुम्हे हलरप हम याद  जो रखते है।
अपने सपने हर ख्याब तो तेरे है।
परियो की रानी आप पर मरते है।

-हेमलाल साहू
ग्राम- गिधवा, पोस्ट- नगधा
तहसील -नवागढ़, जिला बेमेतरा
छत्तीसगढ़, मो. नं.-9977831273

भारत माँ के अमर सपूतो

भारत माँ के अमर सपूतो, चिड़िया बोले वीरो।
हो आया है भोर सँवेरा, अब तो जागो हीरो।।

भारत माँ की कर्ज चुकाओ, शांति देश में लाओ।
भाई चारा प्रेम बढ़ाओ, भारत के गुन गाओ।।

ऐसा कोई छूट न जाये, जो अब पढ़ न पाये।
अज्ञानता को दूर भगाओ, दीपक ज्ञान जलाये।।

इस मिटटी में सोना ऊगाये, परिश्रम खूब लगाये।
रहै गरीबी न देश अपने, हरियाली को लाये।।

जय हिन्द हिन्द जय का नारा, तुम अब खूब लगाओ।
रहै देश में अमन सदा ही, तुम झण्डा लहराओ।।

-हेमलाल साहू
ग्राम गिधवा, पोस्ट नगधा
तहसील नवागढ़, जिला बेमेतरा
(छत्तीसगढ़) मो.9977831273